मुनव्वर राणा जी के Top 10 शेर | The Top 10

मुनव्वर राणा जी के Top 10 शेर | The Top 10

मुनव्वर राणा  जी और उनके  top 10 शेर  मुनव्वर राणा जी इक्कीसवी सदी के लोकप्रिय शायर है, जिन्होंने अपनी जिंदगी के बहुत वर्ष हिंदी उर्दू शायरी की तरबियत की है। आपकी शायरी में जीवन जीने की कला और मात्र पितृ भक्ति बहुत अहम रूप से प्रकाशित की गई है। समाज के लिए आपकी शायरी सीख…

अनुवाद | Translation | Pablo Neruda

अनुवाद | Translation | Pablo Neruda

“रात की चिड़िया सबसे पहले
उन सितारों को
चुगती है,
जो मेरी आत्मा से फूटते हैं,
जब जब मैं तुमसे प्रेम करता हूँ। “

बाल्टी | मानव कौल

बाल्टी | मानव कौल

वक्त बीतते-बीतते निचोड़ता चलता है एक बाल्टी तुमको। बाहर आँगन में जो कपड़े सूख रहे हैं-मेरे पुराने कपड़े-वे तुम्हारी याद का पानी छोड़ने को तैयार नहीं हैं। कुछ पुराने कपड़े जो वड़ी कोशिशों के बाद सुखा चुका है, वे भी बड़े जिद्दी निकले।

A Soldier’s Play – नाटक  समीक्षा | Play Review

A Soldier’s Play – नाटक समीक्षा | Play Review

कोई नाटक किसी समय की सोच और उस से जुड़े सवाल इतने पारदर्शी और सुंदर ढंग से कह सकता है, मैंने सोचा नहीं था। इसको पढ़ने के बाद अच्छे से समझ में आता है कि क्यूँ Charles Fuller को इस नाटक के लिए Pulitzer Prize मिला होगा।

नाटक में जीवन कैसा होना चाहिए?

नाटक में जीवन कैसा होना चाहिए?

जीवित पात्र! नाटक में जीवन जैसा है वैसा नहीं बल्कि ‘जैसा होना चाहिए’ वैसा दिखाना होता है; सपनों वाला जीवन।